मेरे दोस्त की माँ की चुदाई पार्ट 1

(Mere dost ki ma ki chudai part 1)

हैलो, अश्लील सेक्स कहानी के पाठकों मैं अपनी एक और नई कहानी के साथ वापस आ गया हूँ जो मेरे बारे में नहीं जानते हैं, कृपया मेरी पिछली कहानियों के पढ़ कर जान जाओगे।अब मेरी नई घटना लेकर आप के सामने हाजिर हु, यह कहानी मेरे दोस्त की मां के साथ है.उसका नाम शीना है और 38 साल की है। मेरी दोस्त की माँ न ज्यादा मोटी है न ज्यादा पतली दिखती है। और मैं उसके परिवार के लिए नया नहीं हूँ उसका पति बाहर कंपनी काम करता है। में रोज अपने दोस्त के घर जाता था और उनको निहारता रहता था एक दिन में गलती से अपना मोबाइल उनके घर भूल गया था जिसमे मेरे दूसरी पहचान के कई राज थे। हाथो-हाथो मेरे दोस्त के घर गया और अपना मोबाइल लेकर आया मगर एक दिन अज्ञात नंबर से मेरे मोबाइल के व्हाट्सएप एक संदेश मिला। वह व्यक्ति एक महिला है और कहा कि उसने मेरी कहानी पढ़कर मुझे मैसेज किया, मैं उस पर विश्वास नहीं किया, क्योकि में अपने पर्सनल नंबर किसी को नही देता हूं न ही ईमेल में न ही कहानी में मैंने सोचा कि मेरे कोई दोस्त मेरे साथ मजाक कर रहा हैं.बाद में उसने मुझे फोन किया और आपस मे बात की उसकी आवाज बहुत प्यारी थी मैंने उससे पूछा कि वह क्या चाहती है उसने सीधे कहा कि वह मुझ में रुचि रखती हैं। मेने कहा आप मुझसे क्यो रुचि रखती है क्या आप मेरे साथ सेक्स करना चाहती हैं?
शीना: यह हमारे चैट पर निर्भर करता है।

साली बहुत भाव खा रही थी मगर में भी चिड़िया को फसाना जानता था। मेने कहा ठीक है मुझे अपने बारे में बताओ:
मैं रीमा हूँ, 38 साल की गृहिणी हु। मुझे नहीं पता वह मेरे दोस्तों की मां है बाद में मुझे उसके साथ चुदाई करने के दौरान पता चला।
रीमा: तो, क्या?क्या आप चैट नहीं करना चाहते हैं?
मुझे: ऐसा नहीं है, आप मुझमें रुचि कैसे आई?
रीमा: मुझे आप की सेक्स कहानी पसंद आई है, यही कारण है कि।
में: अपने पति के बारे में बताये?
रीमा: वह हमेशा अपने काम में व्यस्त हैं वह अब सेक्स में दिलचस्पी नहीं रखते है।में: तो मुझे लगता है कि आपके बच्चे हैं सही?
रीमा: याह। एक बेटा और बेटी है।
में: मैं विश्वास नहीं कर सकता कि आप वास्तव में मुझ में रुचि रखती हैं।

रीमा: मैं फिर क्या कर सकती हूं जिससे आप को मेरे ऊपर विश्वाश हो? मैंने उसकी तस्वीर मांगी मगर उसने मना कर दिया। मैंने उससे पूछा कि मैं आप पर कैसे विश्वास कर सकता हूँ? उसने कहा में अपनी एक pic भेजूगी मगर अपना चेहरा नही दिखाऊँगी मेने कहा ठीक है और मैंने उसके चेहरे पर नकाब के साथ एक सेल्फी प्राप्त की। मैंने उसकी तारीफ की, उसकी उतनी उम्र में भी उसके शरीर के मेंटेन कर के रखा था। हम लोग रोज चेट करते थे उसने अपने हर अंग की पिचर बताई सिर्फ चेहरे को छोड़ कर। एक दिन मेने उसे मिलने को बोला क्योकि वो मेरे शहर की थी मगर उसने मना कर दिया मगर उसने एक फैसला लिया.लेकिन एक शर्त पर सहमत हुई कि वह मुझे अपना चेहरा देखने की इजाजत नहीं देगी और हमेशा चेहरा नकाब के अंदर छिपा के रखेगी।

मैं उसकी बात से सहमत था उसने एक फिल्म के लिए टिकट बुक किये और मुझे भेजें मैं थिएटर गया और कुछ समय बाद, वह आई और मेरे पास बैठ गई मैंने उसे उसके नाम से बुलाया उसने थोड़ी देर के लिए प्रतीक्षा करने के लिए कहा। लाइट बंद होने के बाद, मैंने अपना हाथ उसके हाथ पर रखा मैं हैरान हूँ,वह सीधे मेरे लंड पर अपना हाथ रखती है क्योंकि यह थियेटर ज्यादा खाली था और हर जगह जोड़े भी थे। इसलिए, हमें कोई समस्या नहीं है। वह एक नीले रंग की साड़ी में ब्लैक ब्लाउज के पहने थी और अपने चेहरे को नकाब से ढकी हुई थी। उसने कुछ समय के लिए मेरे लंड को सहलाया और बाद में नीचे झुक गई और नकाब को हटाये बिना मेरे लंड को चूसा। कुछ समय बाद, मैंने उससे कहा कि मेरा होने वाला है। उसने अपनी गति बढ़ा दी और मेरे वीर्य के स्वाद की प्रशंसा की। मैंने उससे चेहरे का नकाब हटाने के लिए कहा लेकिन उसने इनकार किया। अब मैंने उसकी साड़ी के आँचल को ब्लाउज से अलग किया और उसके स्तनों को दबाया। वे इतने नरम थे और चूसने और महसूस करने मैंने उसकी साड़ी पल्लू के नीचे उसके ब्लाउज़ के हुक को हटा दिया और अंदर घुस गया। वे चूसना लगा वह अच्छे और सॉफ्ट थे।

कुछ देर बाद मैंने धीरे से मेरा हाथ उसकी साड़ी के अंदर चुद पर रखा और उसकी चुद को मसलने लगा। बाद में मैं नीचे गया और उसकी साड़ी के अंदर पेटीकोट में मुँह डालकर चुद को चूसना शुरू कर दिया। थोड़ी देर के बाद, लाइट चालू होगई अचानक उसने कहा कि वह घर जा रही है और मुझसे कहा कि उसको कुछ काम है मैंने पूछा कि उसे क्या काम है।उसने कहा कि उसके पास कुछ जरूरी काम है मैंने कहा ठीक है। मैं कुछ समय बाद में भी घर चला गया। उसने मेरी तारीफ के लिए मुझे वाट्सएप्प पर मैसेज किया मैंने कहा धन्यवाद। कुछ दिनों बाद, उसने मुझसे फिर मिलने के लिए पूछा मेने उसे हा कहा उसने एक होटल बुक किया और मुझे वहां बुलाया।

मैं वहां गया और कमरे में उसे मिला। वह चमकीला ब्लाउज के साथ गुलाबी साड़ी में थी उस कमबख्त ने फिर एक शर्त रखी मैंने उससे पूछा अब क्या शर्त है। रीमा: मेरी साड़ी को पूरी तरह से न हटाएं और मेरी ब्लाउज के सिर्फ ऊपर के बटन खोले मेरा पूरा ब्लाउज को भी न हटाएं। मेने उसे पूछा ऐसा क्यों पहले तो तुम्हारे चेहरे पर नकाब है और ऊपर से आप शर्त ऐसी रख रही है तो उसमें मजा कैसे आएगा। रीमा ने कहा मेरे पास कुछ काम है, इसलिए मैं जल्दी ड्रेस अप करना चाहती हूं। मेरे पास उसकी बात मानने के अलावा और कोई चारा भी नही था मैंने ठीक कहा और उसे बिस्तर में डाल दिया और मैं उसे चुम्बन करने के लिए उसके ऊपर गया। लेकिन उसने अपने चेहरे के नकाब के कारण चुंबन के लिए मना कर दिया इसलिए, मैं उसकी साड़ी पल्लू को हटाया और उसके ब्लाउज हुक को खोलता हूं और उसके स्तन चूसने लगा।

मैं धीरे धीरे नीचे चला गया और उसकी साड़ी उठाया और उसे चुद को चूसना शुरू कर दिया वह आह उहा शुरू कर दिया और उसके चुद केआस पास बाल थे। थोड़ी देर के बाद, मैंने उसे मेरे लंड चूसने के लिए कहा। वह अपने घुटनों पर झुकी और मेरे पैंट को खोल दिया। मैंने अपना पैंट हटा दिया, उसने मेरे लंड को केवल नकाब के नीचे चूसना शुरू कर दिया। बाद में उसको कुते के तरीके से झुकाया सीथा उसकी चुद के मुह पर लंड रखा और अंदर डालने लगा मगर उसकी चुद टाइट थी मैंने उससे तेल के बारे में पूछा। उसके पास वैसलीन थी वह वैसलीन को मेरे लंड पर अछि तरह से लगाती है और उसके छेद के अंदर एक ही बार मे पूरा डाल देता हूं जिससे उसे थोड़ा दर्द होता है उस स्थिति में मैंने जल्दी से उसका नकाब हटाया। हे भगवान!मैं हैरान रह गया। मैं हैरान था कि वह मेरे दोस्त की माँ थी शालू वह किसी को नहीं बताने के लिए रोने लगी और सेक्स के लिए इतनी तड़प थी जब उसने मेरी कहानी मोबाइल पर पढ़ी तो उसकी वासना उसके ऊपर हावी होगई और मुझे चुदने के लिए ये सब नाटक किया फिर में उसे दिलासा देता हूं और उसके दर्द को समझता हूं। मैंने उसे वचन दिया की ये बात हम दोनों तक ही रहेगी। मैं फिर से उसकी चुद मारना शुरू कर दिया मिशनरी स्थिति उसके स्तन गेंदों की तरह चलते हैं मैंने उससे पूछा कि मेरा होने वाला है है उसने कहा अपना माल चुद में ही गिरा दो मेने 10 से 15 शार्ट और मारे और उसकी चुद में ही झर गया हम कुछ देर के लिए सोते रहे थोड़ी देर के बाद फिर से उसको चोदने के लिए बोला मगर उसने मना कर दिया मेरा मन नही भरा था उसने मेरी मनोदशा समझी और कल रात के लिए बोला क्यो की मेरा दोस्त किसी जरूरी काम से बहार जाने वाला था तो दोस्तो आगे की स्टोरी नेक्स्ट पार्ट 2 में और मेरी कहानी का फर्स्ट पार्ट कैसा लगा मुझे बताये आंटी भाभी या किसी गर्ल को और मेरी सर्विस किसी को चाहिए तो मुझे ईमेल पर कॉन्टेक्ट करे।


Online porn video at mobile phone


"sex story india""kuwari chut ki chudai""bua ko choda""hindisex stories""hindi hot store""new hot kahani""bhabhi ki kahani with photo""online sex stories""adult stories hindi""chodan com""kamukta storis""hot sex story"chudaikahaniya"chikni chut""hindi adult stories""chut me land story""hot kahaniya""hindi sex chats""www hindi chudai kahani com""group sex stories in hindi""sex story photo ke sath""chudai kahani""free sex stories in hindi""www kamvasna com""sexy storis in hindi""sex story of girl""maa bete ki chudai""sexy hindi kahaniy""chudai parivar""hot hindi sex story""chechi sex""kamukta kahani""office sex story""sexy chut kahani""www hindi sexi story com""sagi bhabhi ki chudai""indiam sex stories""husband and wife sex stories""sex story in hindi with pics""sex stories written in hindi""hindi kamukta""sex story bhabhi""jija sali sex stories""hot gandi kahani""sexy storu""sex indain"hindisexystory"sexy story hot""सेक्सी स्टोरीज""hot hindi sex story""train sex stories""aunty ki chut story""sax stori""isexy chat""sex photo kahani""randi chudai""hindi hot store""dost ki biwi ki chudai""hot sex stories""jija sali sexy story""indian sex stories in hindi font""www kamukta com hindi""sexy hindi stories""hindi sex storey""sex story in odia""hindi xxx kahani""bhai behan ki sexy hindi kahani""bhabhi ki behan ki chudai""kamukata sexy story""sex stories with pics""sexy suhagrat""chudai ka nasha""group chudai story""hindi sexy story in""indian sex stoeies""हिन्दी सेक्स कथा""hindi sax storis""indian incest sex""hinde sex""www sex story co""sasur se chudwaya""bhabi sexy story""चुदाई की कहानी""naukrani sex""choot ki chudai"