इंटरनेट वाली भाभी की चुदाई

(Internet Wali Bhabhi Ki Chudai)

मेरा नाम अमन हैं और मैं यूपी वाराणसी से हूँ, 24 साल का गभरू जवान! मेरे लंड का साइज़ 7 इंच हैं और चौड़ाई में पुरे ३ इंच का हैं. मुझे मच्योर लेडिस, भाभियों और आंटीज के साथ में चुदाई करना पसंद हैं.
ये भी वैसी ही एक भाभी की चुदाई की कहानी हैं जिसका नाम स्वेता (बदला नाम) हैं और वो लखनऊ से हैं. वो वहां पर अपने ससुराल में फेमली के साथ रहती हैं. उसका हसबैंड बिजनेशमेन हैं और वो ज्यादा टाइम नहीं दे पाता हैं अपनी वाइफ को. और वैसे भी उसकी शादी के ३ साल बाद भाभी को औलाद नहीं हुई इसलिए उसके हसबैंड की सेक्स से रूचि खत्म जैसी ही हो चुकी थी. इतने में मैं भाभी के कांटेक्ट में आया और हम लोगों को रोज ढेर सारी बातें होने लगी, कभी कभी तो लेट नाइट्स में भी.

फिर हम एक दुसरे से अपनी सारी पर्सनल बातें भी शेयर करने लगे. और ऐसे ही एक दुसरे के करीब भी आ गए और एक दुसरे के क्लोज़ फ्रेंड हो गए. एक दिन स्वेता भाभी ने मुझे बताया की मेरा हसबैंड मुझे वक्त ही नहीं देता हैं और मुझे प्यार भी नहीं करता हैं. वो मेरे लिए कभी टाइम निकालेगा भी नहीं शायद.
मैंने सोचा की लोहा गरम हैं हथोडा मार ही देता हु. मैंने बोला मैं हूँ न आप के लिए भाभी. वो शर्मा गई और हंसने लगी. मेने बोला सच बोल रहा हूँ, आई लव यु. वो भी मान गई और बोली, आई लव यु टू.

फिर धीरे धीरे से लाइक लव में बदल गया पता ही नहीं चला. फिर वो एक दिन रोने लगी की किसीको मेरी परवाह ही नहीं हैं मेरी पड़ी नहीं हैं. मैं समझ गया की उसकी चूत अब मेरा लंड खाने को रेडी हैं और वो मिलने के लिए ही ये सब नौटंकी कर रही हैं. मैं भी उसके मुहं से सुनना चाहता था की मुझे मिलने आओ. मगर वो नहीं बोली वैसे भी लेडीज़ चुदवाने के लिए मरी जाती हैं लेकिन जबान से बहनचोद कभी कुछ नहीं कहती हैं.
फिर मैंने उसको बोल दिया की मैं आप को मिलना चाहता हु, और आप के साथ कुछ अच्छा समय बिताना चाहता हूँ. वो मान गई और हमने मिलने का डेट फिक्स किया. मैं यहाँ से ट्रेन में लखनऊ गया. वो मुझे रिसीव करने के लिए स्टेशन पर आई थी.

मैंने जब उसे देखा तो एकदम शोक हो गया, साली क्या गजब की माल लग रही थी. उसका फिगर 34-32-34 का था. मैं तो तब ही पागल हो गया था और मेरा लंड उसकी चूत को पाने के लिए बेताब सा था.
फिर मैंने उसे हैल्लो कहा और उसने मुझे हग कर के वेलकम किया. फिर टेक्सी पकड़ के हम लोग वहां से निकले. वैसे भी दोपहर हो गई थी तो उसने मुझे पूछा की लंच करेंगे तो मैंने बोला हां करना ही पड़ेगा क्यूंकि ताकत भी चाहियें होगी न. वो शर्मा गई और निचे देख के हंस पड़ी. हमने वही पास एक रेस्टोरेंट में लंच किया और फिर उसने होटल में जो कमरा बुक किया था हम दोनों वहां पहुँच गए.
मैंने कमरे में दाखिल होते ही उसको हग कर लिया और एकदम टाईट पकड़ लिया और वो भी पूरा सपोर्ट कर रही थी मुझे.

यह कहानी आप decodr.ru पर पढ़ रहे है ।

फिर मैं फ्रेश होने के लिए चला गया. कुछ देर में बाथरूम का दरवाजा नोक किया. मैंने पूछा क्या हुआ तो वो बोली दरवाजा खोलो ना. जैसे ही मैंने दरवाजा खोला वो बाथरूम में घुस आई और मुझे लिपट गई और वो भीग रही थी उसकी भी परवाह नहीं की उसने.
मैंने उसका टॉप हटाया अन्दर उसने ब्लेक ब्रा पहनी हुई थी जिसमे वो एकदम सेक्सी लग रही थी. ब्रा को भी मैंने निकाल दी और भाभी की चुन्चियों को सक करने लागा. वो बोली धीरे कर मैं कही नहीं जानेवाली.
फिर वो पूरा न्यूड हो गई और हम साथ में नहाने लगे. फिर हम ऐसे ही न्यूड बहार आये. मैं उसको गोद में उठाके रखा था और सीधा ही उसको बिस्तर पर रख दिया और मैं उसके ऊपर कूद गया.

फिर हम किस करने लगे. ऐसे ही १०-१२ मिनिट किस किया फिर वो मेरा लौंडा पकड के सहलाने लगी. मैंने बोला इसको मुह में ले लो न मजा आएगा. वो मना कर रही थी. काफी रिक्वेस्ट करने के बाद वो मान गई और लौंडा को चूसने लगी. मैं भी उसको सहला रहा था और उसके बूब्स दबा रहा था. फिर मैंने उसको लेटा दिया और लौंडा उसकी चूत पे रगड़ने लगा. बोली, जल्दी अन्दर डालो रहा नहीं जा रहा हैं मेरे से. लेकिन मैंने फिर भी उसको थोडा तड़पाया और अचानक से एक जोर का झटका लगाया और लौंडा सीधा उसके अंदर डाला, उसके मुहं से एक चीख निकल पड़ी!
फिर मैं जोर के झटके लगा रहा था और वो आह्ह आह्ह्ह ह्ह्ह्ह आह्ह्ह्ह म्माआआअ ह्ह्हह्ह्ह्ह कर रही थी. पुरे बेडरूम में उसकी आवाज आ रही थी. फिर करीब 15मिनिट के बाद मैं झड़ गया. वो भी झड़ गई थी क्यूंकि आज मुझसे चुद के वो भी बहुत उत्तेजित हुई थी.

फिर हम ऐसे ही लेटे रहे. 5 मिनिट के बाद उसने अपने पैर से मेरे लन्ड को रगडा. फिर उसने मुह में ले लिया मेरे लन्ड को. और उसे एकदम से टाईट भी कर दिया. अब की वो मेरे ऊपर आई. मैंने उसका कमर पकड़ा और चूत में लन्ड दे दिया. वो मेरे ऊपर उछल के चुदाई करवा रही थी. करीब 20 मिनिट बाद फिर से हम झड़ गए और ऐसे ही न्यूड लेते रहे एक दुसरे से लिपट के. और फीर हम उठ के साथ में नहाने के लिए चले गए.
बाथरूम में नहाते वक्त मेरा लन्ड फिर से खड़ा हो गया, क्या करूँ तो थी ही इतनी सेक्सी माल. अब मैंने स्वेता भाभी को वही बाथरूम में ही लन्ड चुसाया और घोड़ी बना के उसकी चूत की चुदाई की. फिर हम फ्रेश हुए और होटल से निकल गए.
वापिस आने के कुछ दिन बाद उसने मुझे गुड न्यूज़ भी सूना दिया की वो प्रेग्नेंट हैं और मेरे बच्चे की माँ बनने वाली हैं!
भाभी की चुदाई

Email-



"gay sex story""indian sex stor""kamvasna khani""read sex story""hindi sex story kamukta com""saas ki chudai""hindi sexystory com""hindi sax storis""jabardasti sex ki kahani""hindi sexi story""sex ki gandi kahani""sexy story""chachi ki chudae""sexstories hindi""chudai sex""brother sister sex story""hot sex stories""www.hindi sex story""nude story in hindi""hindi sex stoy""kamukta khaniya""office sex stories""hindisex katha""group chudai"sex.stories"erotic stories hindi""new hindi sex kahani"chudaistory"sex stories hot""hindi sexy story in hindi language""hindi sex kahaniyan""naukar ne choda""hindi sex katha""indain sex stories""hindi srxy story""sali ki mast chudai""bhabhi sex story""hindi sax storis""indian sex kahani""tanglish sex story""bhai bahan ki sexy story""indian mom son sex stories"kamukata.com"mother and son sex stories""phone sex story in hindi""hindi me sexi kahani""hindi sex estore""suhagraat sex""bahan bhai sex story""mama ne choda""hindi xxx kahani""real sex story"www.hindisex.com"chodan story""सैकस कहानी""saxy story""hot sexi story in hindi""bhabhi ki chudai kahani""aex story""adult hindi story""www hot sexy story com""hindi xxx stories"www.hindisex"maa ki chudai bete ke sath""www chodan dot com""kamukata sexy story""bhabhi gaand""boor ki chudai""sex kahani""www sex store hindi com""biwi aur sali ki chudai"