भोपाल में ट्रेनिंग-1

(Bhopal Me Training-1)

उर्मिलामित्रो, हर स्त्री के जीवन में अनेक घटनाएँ घटित होती हैं, उन में से कुछ घटनाएँ तो दुखी कर देती हैं, लेकिन कुछ बहुत सुखद और यादगार होती हैं !

मेरे जीवन में भी ऐसी ही एक सुखद और यादगार घटना हुई थी, जिसकी यादें आज भी ताज़ा हैं और उनकी याद आते ही मैं रोमांचित हो जाती हूँ। मैं उस घटना के कुछ संस्मरण आपके सामने प्रस्तुत करना चाहती हूँ, लेकिन उससे पहले मैं आपको अपना परिचय देना चाहूँगी!

मेरा नाम उर्मिला है, सब लोग मुझे “उर्मी” कहते है, मैं तेईस वर्ष की हूँ और भोपाल में रहती हूँ। लगभग तीन वर्ष पहले मेरी शादी हुई थी। शादी से पहले भी मैं बहुत ही सुन्दर दिखती थी, लेकिन शादी के बाद मेरा रंग रूप और भी ज्यादा निखर आया है, अब तो मैं एक अप्सरा से कम नहीं लगती हूँ !

मेरे पैमाने हैं 36-24-36, कद पांच फुट छह इंच, रंग बहुत गोरा, छाती उठी हुई और उस पर दो कसी हुई चूचियाँ, जिनके ऊपर मोटे काले अंगूरों जैसी घुन्डियाँ, बल खाती हुई कमर पतली, चौड़े नितम्ब, सुडौल जांघें और लंबी तथा पतली टाँगें ! नाभि के नीचे और टांगों के बीच में काले रंग के बालों के बीच में विराजमान मेरी संकरी सी गोरी चूत !

तीन वर्ष की शादी के बाद भी कोई बच्चा ना होने की वजह से अभी तक इस चूत में कोई बदलाव नहीं आया, अभी भी वह तीन वर्ष पहले जैसी कुंवारी और संकरी दीखती है ! आज भी जब मैं चुदती हूँ तो वही पहली रात जैसा ही आनन्द आता है !

यह घटना लगभग एक वर्ष पहले की है जब मेरी इक्कीस वर्षीया छोटी बहन अर्ची (अर्चना) की शादी, मथुरा में रहने वाले परिवार के तेईस वर्षीय कमल से हुई थी। कमल आगरा में एक कंपनी में इंजिनियर है और अर्ची के साथ आगरा में ही रहतें हैं। मेरी छोटी बहन भी मेरे तरह बहुत सुंदर है और उसका शरीर भी बहुत मादक है, हम दोनों बिल्कुल जुड़वाँ लगती हैं। कमल का कद छह फुट है, चौड़ी छाती है और वह स्वस्थ तथा बलिष्ठ पुरुष है ! नियमित योग और व्यायाम के कारण उसका सिक्स-पैक शरीर अत्यंत ही आकर्षक है !

शादी के तुरंत बाद कमल और अर्ची जब मेरे घर भोपाल में दो दिन के लिए रहने आये थे, तब मैंने उन्हें अपने साथ वाले बेडरूम में ही ठहराया था। दोनों बेडरूम के बीच में एक दरवाज़ा था, जिस में से एक दूसरे कमरे में हो रही आवाजें सुनाई देती थी और उस दरवाज़े के की-होल में से उस कमरे के अंदर का नज़ारा भी दिखाई देता था !

रात को जब मेरे पति सो गए, तब मैं उठ कर उस दरवाज़े के पास खड़े होकर दूसरे कमरे की आवाजें सुनने लगी। अंदर कमल अर्ची को चुदाई के लिए मना रहा था और वह कुछ नखरे दिखा रही थी !

मुझसे रहा नहीं गया और मैंने की-होल में से देखा तो पाया कि कमरे की लाईट जल रही थी तथा कमल अर्धनग्न खड़ा था और अर्ची के कपड़े उतार रहा था। जब उसने अर्ची को पूरा नग्न कर दिया तब वह सीधा खड़ा हो कर अर्ची से उसका जांघिया उतारने को कहा।

अर्ची उठ कर बेड पर बैठ गई और उसका जांघिया नीचे करके उसमें से कैद लौड़े को आज़ाद कर दिया।

यह कहानी आप decodr.ru पर पढ़ रहे है ।

मैं तो उस लौड़े को देख कर दंग रह गई, कमल का लौड़ा आठ इंच लंबा और दो इंच मोटा था तथा उसका सुपारा तो ढाई इंच मोटा था ! लौड़ा एकदम तना हुआ था, उसके ऊपर की नसें फूली हुई थीं और उसका सुपारा बाहर निकला हुआ था।

अर्ची पहले उस लौड़े को बड़े प्यार से अपने हाथों से मसलती रही, फिर उसने उसको अपने मुँह में डाल कर चूसना शुरू कर दिया। उधर कमल अर्ची की चूचियाँ दबा रहा था और उसकी घुंडियों को मसल रहा था।

कुछ देर के बाद कमल ने अर्ची को उठा कर बेड पर लिटा दिया और उसकी टांगों के बीच में मुँह डाल कर उसकी चूत को चूसने तथा चाटने लगा। लगभग पांच मिनट के बाद अर्ची चिल्लाने लगी और कमल को चुदाई के लिए कहने लगी। कमल अर्ची की दोनों टांगों के बीच में बैठ गया और उसने अपना लौड़ा उसकी चूत के मुँह पर रख कर एक धक्का दिया तथा आधा लौड़ा अर्ची की चूत के अंदर कर दिया। फिर उसने दूसरा धक्का लगाया और पूरा लौड़ा चूत में धकेल दिया !

अर्ची ने हल्की सी चीख मारी और कमल से लिपट गई ! इसके बाद अगले दस मिनट तक कमल उछल उछल अपना लौड़ा अर्ची की चूत के अंदर बाहर करता रहा और अर्ची भी उछल उछल कर कमल का साथ देती रही। दस मिनट के बाद अचानक कमल ने तेज़ी से चुदाई करने लगा और फिर दोनों ही चीखने चिल्लाने लगे तथा एकदम से अकड़ कर एक दूसरे पर ढेर हो गए। फिर दोनों अलग हुए, लाईट बंद कर दी और सो गए।

मैं भी अपने बिस्तर पर आकर लेट गई और अभी अभी देखे नज़ारे के बारे में सोचने लगी !

मेरी चूत में खुजली शुरू गई थी, मैं भी चुदना चाहती थी, इसलिए मैं अपने पति से चिपट गई और उनके लौड़े को पकड़ कर मसलने लगी। मेरे पति का लौड़ा कमल के लौड़े के सामने कुछ भी नहीं था, मेरे पति का लौड़ा सिर्फ छह इंच लंबा और सवा इंच मोटा था और सुपारा तो डेढ़ इंच मोटा ही था तथा टोपी के अंदर ही रहता था !

मुझे अर्ची से ईर्ष्या हो रही थी, मैं भी कमल का लौड़ा अपनी चूत में डलवाना चाहती थी लेकिन उस समय के हालात और चूत की खुजली से मजबूर मैं अपने पति के लौड़े को ही जगाने लगी थी। मेरे मसलने पर लौड़ा तन गया और मेरे पति भी जाग गए !

मेरी चुदाई की इच्छा को समझते हुए उन्होंने अपने और मेरे कपड़े उतार दिए तथा अपने लौड़े को मेरे मुँह में देकर मेरी चूत को चूसने लगे। मैं तो पहले से ही गर्म थी इसलिए दो मिनट में ही मैंने पानी छोड़ दिया !

मेरी यह हालत देख मेरे पति ने मुझे सीधा लिटाया और अपने लौड़े को एक ही झटके में मेरी चूत में धकेल दिया और मेरी चुदाई शुरू कर दी। अगले दस मिनट में मैंने दो बार पानी छोड़ा और फिर जाकर मेरे पति ने अपने पिचकारी छोड़ी और मेरी आग शांत की।

इसके बाद हम सो गये, लेकिन क्योंकि मेरी संतुष्टि नहीं हुई थी इसलिए सपने में भी मुझे कमल का लौड़ा ही दिखाई देता रहा !

कहानी जारी रहेगी।



hindisexikahaniya"chudai ki kahani group me""hindi me chudai""hindi sex s""chudai ki kahaniya in hindi""sexy storis in hindi""chut me land story""kamwali sex""new xxx kahani""sexy group story""best sex story""sexy strory in hindi""hot hindi sexy stores""xossip story""sex story india""bhai bahan sex story com""sex stor""sexy story""hot store in hindi""hot sex story hindi""sex with sister stories""hindi bhai behan sex story""sex khania""hot maa story""hindi sexy story hindi sexy story""kamukta hindi sex story""erotic hindi stories""beeg story""office sex story""sadhu baba ne choda""sex stories with images"chudaikikahani"sexstoryin hindi""tailor sex stories""sex storey""hot kahaniya""sexy in hindi""bhai behan ki chudai""सेक्सी स्टोरी""kamukta video""new sex stories""sex stories hot""kamukta hindi stories""mastram chudai kahani""chudai ki kahani new""sex photo kahani""sexstory hindi"chudai"www sex story co""babhi ki chudai""indian wife sex story""new sex stories""chudai story new""hot sexy stories""saali ki chudaai""sex stories with photos""www.indian sex stories.com""hindi chudai kahaniya""hindi sex tori"hotsexstory.xyz"mom sex stories""jija sali sex stories""rishte mein chudai""hindi sex storyes""free sex stories""doctor sex stories""chodo story""bahan ko choda""sexy kahania""maa sexy story""amma sex stories""hindi sexy khaniya""grup sex""kamukta hindi sexy kahaniya""very sex story""hindi sexcy stories"