भाई ने चूत की खुजली मिटाई

(Bhai Ne Chut Ki Khujli Mitayi)

नमस्ते दोस्तो, मेरा नाम नेहा है. मुझे मेरे मम्मी पापा बहुत प्यार करते हैं और मैं जो बोलती हूँ वो करते हैं. शायद इसलिए मुझे चुदवाने का भी मौका मिल जाता था क्योंकि मेरे मम्मी मुझे किसी भी चीज के लिए ज्यादा डांटती नहीं हैं. मैं चाहे रात को देर से घर आऊँ और दिन में किसी से फ़ोन पर बात करूँ, उनको इन सब से ज्यादा मतलब नहीं रहता है.
मुझे बस मम्मी और पापा तब डांटते हैं जब मैं कभी कभी कभी गलती से ड्रिंक कर लेती हूँ. मैं भी क्या करूँ … मेरी सहेलियां मुझे जबरदस्ती पिला देती हैं.

मैं अपनी कहानी बताने से पहले आप सबको अपने बारे में बता देती हूँ. मेरी बॉडी बहुत मेन्टेन है और मेरी हाइट भी अच्छी है. मतलब कि दिखने में मैं आइटम लगती हूँ. मेरा बॉयफ्रेंड मुझे आइटम ही बुलाता है. वो अलग बात है कि मेरा अब उससे ब्रेकअप हो गया है.

जब ब्रेकअप हो जाता है तो घर में ही सेक्स के लिए जुगाड़ बनाना पड़ता है या किसी रिश्तेदार के साथ सेक्स करना पड़ता है. मैंने भी ऐसा ही किया, अपने भाई को ही पटा लिया. या उसने मुझे पटाया? आपको मेरी कहानी पढ़ने के बाद ही पता चलेगा.

मेरा भाई कोई और नहीं, मेरी रिश्तेदारी में एक चाचा हैं, उनका बेटा है जिसका मेरे घर हमेशा आना जाना लगा रहता है. उसका घर मेरे घर से थोड़ी ही दूर पर है इसलिए उसकी मम्मी भी हमारे घर आती रहती हैं.

मैं शहर की रहने वाली हूँ तो आप लोगों को तो पता होगा कि मैं कितना फैशन में रहती हूँ. और मैं ही क्या … शहर की सारी लड़कियां ही फैशन में रहती है. मुझे फैशन का बहुत शौक है और जब भी मेरे चाचा का लड़का आता है, जिसको मैं भाई बोलती हूँ, वो मेरे जिस्म की खुशबू से ही मदोश हो जाता है. हम दोनों भाई बहन जब भी मिलते हैं, एक दूसरे का हाल चल लेते रहते हैं.
मेरी मम्मी और उसकी मम्मी बहुत अच्छी दोस्त थी इसलिए मेरे भाई को मेरे घर आने में कोई दिक्कत नहीं होती थी. वो जब भी मेरे घर आता था उसको कोई कुछ नहीं कहता था. वो भले ही मेरे रिश्तेदार के चाचा का लड़का था लेकिन हम लोग उसको अपने परिवार की तरह मानते थे.

मेरा ब्रेकअप हुए कई दिन हो गए थे और मुझे बहुत अकेलापन महसूस होता था. मैं इसी अकेलेपन को दूर करने के लिए अपने भाई से बात से बातें करने लगी. अब हम लोगों की रोज बातें होने लगी और वो भी मेरे घर रोज आने जाने लगा. हम दोनों लोग इसी बीच थोड़ा करीब आ गए. अब मुझे अपने बॉयफ्रेंड की थोड़ी कम याद आती थी. मैं अपने भाई के साथ ही अपने अकेलेपन को दूर करती थी.

हम दोनों लोग कभी कभी घर में अकेले रहते थे तो छत पर जाकर बातें करते थे ताकि हमारी बातें कोई सुने नहीं और हमने बातें करते करते कब एक दूसरे की केयर करना शुरू कर दिया, हम दोनों लोग को पता ही नहीं चला.

मैं अपने बॉयफ्रेंड के साथ चुदवाती थी तो मुझे अब चुदवाने का मन करने लगा. मैं कैसे रह सकती थी बिना चुदवाये और अब तो मैं कैसे भी अपनी चूत में उंगली करके अपने आपको शांत करती थी. मेरे करीब अब मेरा भाई था जिससे मैं ज्यादा बात करती थी. हम दोनों एक दूसरे से बातें करते करते थोड़ा खुलने लगे, वो भी अपनी पर्सनल बातें मुझसे शेयर करने लगा. मुझे बाद में पता चला कि उसकी कोई गर्लफ्रेंड है तो मैं थोड़ी मायूस रहने लगी और उससे बातें करना भी कम कर दी क्योंकि मुझे उसकी गर्लफ्रेंड से जलन सी महसूस हुई. असल में मैं अपने भाई को अब वासना की दृष्टि से देखने लगी थी.

एक दिन वो मेरे घर आया और मैं अपने बेडरूम में थी तो वो मेरे बेडरूम में चला आया. मैं अपने मोबाइल में गाना सुन रही थी. मेरे घर के लोग ज्यादातर बाहर ही रहते हैं या कभी कभी घर में रहते है तो नीचे रहते हैं और मैं ऊपर अपने रूम में रहती हूँ.
वो मुझे आकर बोला- आजकल तुम मुझसे बात क्यों नहीं कर रही हो? मैं तुमको कितना याद करता हूँ!
और बातों बातों में उसने मुझे किस कर दिया.

मुझे मेरे पुराने दिन याद आ गए जब मेरा बॉयफ्रेंड मुझे किस करता था. मेरा भाई मुझे किस किया तो मैं उसकी तरफ देखने लगी लेकिन मेरी आँखों में कोई विरोध नहीं था. उसने मुझे एक बार और किस किया और बोला- बताओ, तुम मुझसे कई दिन से क्यों नहीं बातें कर रही हो?
मैं उसको बोली- तुम तो अपनी गर्लफ्रेंड के साथ बिजी हो! तो मैंने सोचा कि तुमको परेशान नहीं करूँ.
तो वो बोला- तुम मेरे लिए मेरे गर्लफ्रेंड से भी बढ़ कर हो. मैं जितना अपनी गर्लफ्रेंड से बात नहीं करता हूँ उतना तुमसे बात करता हूँ.

यह बात सुनकर मुझे बहुत अच्छा लगा कि मेरा भाई सच में मेरी केयर करता था. मैंने भी उसको जवाब में उसे एक किस कर दी. उसने भी पलट कर मुझे दुबारा किस किया और हम दोनों लोग एक दूसरे को किस करने लगे. मेरा भाई मुझे किस करते करते मरे गर्दन को किस करने लगा.

उसने मेरे कपड़ों को मेरे कामुक जिस्म से हटाना शुरू कर दिया. हम दोनों ने एक दूसरे को किस करते करते कब एक दूसरे के कपड़े निकाल दिए, हम दोनों को पता ही नहीं चला. मैं ब्रा और पेंटी में उसके सामने थी. मैं मॉडर्न ब्रा और पेंटी पहनती हूँ जिसमे मेरी चूची और गांड का पूरा हिस्सा दिख रहा था.

मुझे ब्रा और पेंटी में देख कर भाई का लंड खड़ा हो गया और उसने मेरी ब्रा और पेंटी भी निकाल दी. हम दोनों एक दूसरे के सामने बिल्कुल नंगे थे. उसका एक हाथ मेरे बूब्स पर था और दूसरा हाथ मेरी कमर पर था और हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे. वो मुझे किस करने के बाद नीचे आकर मेरी चूत को चूमने लगा. वो मेरी चूत को चूमने के बाद मेरी चूत में उंगली करने लगा और उसके बाद वो जोर जोर से मेरी चूत में उंगली करने लगा.

मेरी चूत पानी छोड़ने लगी. वो मेरी नाजुक चूत को जोर जोर से अपनी उँगलियों से चोद रहा था और मेरी चूत पानी छोड़ रही थी जिसको मेरा भाई चाटने लगा. मेरी चूत का पानी पीने के बाद वो अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ने लगा. मैं भी हल्की हल्की सिस्कारियाँ लेने लगी और उसके बाद वो मेरी चूत में अपना जीभ डाल कर मेरी चूत को चाटने लगा. मैं पूरे जोश में उसका सर अपनी चूत में दबा रही थी और वो पूरी तन्मयता से मेरी चूत को चाट रहा था.

मुझे इतना सुख कभी नहीं मिला था अपनी चूत चटवा कर … जितना सुख मेरे भाई ने मेरी चूत चाटकर मुझे दिया.

यह कहानी आप decodr.ru पर पढ़ रहे है ।

वो मेरी चूत चाटने के बाद अपना लंड मुझे चूसने के लिए बोला और मैं अपने भाई का लंड चूसने लगी. वो भी मेरे मुंह में अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा और कुछ देर के बाद वो झड़ गया और अपना माल बाहर निकाल दिया.

मेरी चूत की आग शांत ही नहीं हो रही थी. मेरी चूत को लंड की जरूरत थी. मैंने अपने भाई के लंड को अपने हाथ में ले लिया और उसे दोबारा खड़ा करने की कोशिश करने लगी. और मेरा भाई लगातार मेरे नंगे बदन से खेल रहा था.

कुछ देर बाद जब भी का लंड खादा हो गया तो उसने मुझे बिस्तर पर लेताया और वो अपना लंड मेरी चूत में डालने लगा और एक जोर का धक्का मेरी चूत में मारा तो मेरे भाई का लंड मेरी चूत में चला गया और वो मुझे चोदने लगा. वो मेरे ऊपर चढ़ कर मुझे चोद रहा था और मैं मादक आवाजें निकल रही थी- आह आह भी चोदो और चोदो मेरी चूत को इसकी आग को आज शांत कर दो!

मेरा भाई अपने लंड से मुझे चोद रहा था, हम दोनों भी बहन अपना रिश्ता भूल कर चुदाई कर रहे थे. वो कभी कभी मेरी गांड को भी जोर से दबा दे रहा था और कभी कभी मुझे अपने ऊपर लेकर मुझे चोद रहा था. मेरे घर में से सब लोग बाहर गए हुए थे तो मैं भी जोर जोर से चिल्लाकर उससे चुदवा रही थी.

वैसे भी मेरे बेडरूम में जल्दी कोई आता नहीं है और अगर कोई आता है तो मुझे पता चल जाता है कि कोई आ रहा है इसलिए हम दोनों लोग आराम से सेक्स कर रहे थे. हम दोनों को डर नहीं था किसी का!
और मुझे तो बहुत दिन के बाद लंड मिला था चुदवाने के लिए तो मैं बहुत मजे से आराम से अपने भाई से चुदवा रही थी.

हम दोनों को चुदाई करते करते बहुत पसीना आ गया था तो मैंने अपने बेडरूम का कूलर चालू कर दिया और हम दोनों आराम से ठंडी हवा का मजा लेते हुए सेक्स करने लगे.

हम बहुत देर से सेक्स कर रहे थे तो थोड़ा थक गए थे. हम थोड़ी देर रुके और एक दूसरे को किस करने लगे, उसके बाद हमने पानी पिया.

अब हम दुबारा सेक्स करने लगे. मेरा भाई अपना लंड मेरी चूत में डाल कर मुझे चोद रहा था और मैं इस बात से खुश थी कि अब तो मुझे घर में ही लंड मिल जाया करेगा चुदवाने के लिए!

मैं अपने भाई को अपने ऊपर लेकर उससे चुदवा रही थी. हम दोनों चुदाई करते करते अब झड़ने वाले थे.
मेरा भाई बोला- यार नेहा, तुमको चोदने में बहुत मजा आ रहा है!

और वो अपना लंड बाहर निकाल कर मेरी चूत को चाटने लगा. मेरी चूत से बहुत पानी निकल रहा था और मैं अभी तक झड़ी नहीं थी. मेरा भाई मेरी चूत का पानी चाटने लगा. वो मेरी दोनों टांगों को खोलकर मेरी चूत को चाट रहा था.

मेरी चूत को चाटने के बाद वो फिर से अपना लंड मेरी चूत की दरार पर रगड़ने लगा. उसने मेर पैरों को फैला दिया और उसके बाद अपना पूरा लंड मेरी चूत में डाल कर मुझे चोदने लगा और वो साथ साथ मुझे किस कर रहा था और मुझे चोद रहा था. उसके होंठों से मुझे अपनी चूत के रस का स्वाद भी मिल रहा था.

मुझे उसके लंड का स्पर्श मेरी चूत के अन्दर तक महसूस हो रहा था जो मुझे मजा दे रहा था. वो मुझे चोदते चोदते कभी कभी मेरी चूची को भी चूस रहा था. वो मुझे बहुत अच्छे से चोद रहा था और मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि ये मेरा भाई मेरे बॉयफ्रेंड से भी अच्छा मुझे चोद रहा है.

बाद में मेरे भाई ने मुझे बताया था कि वो बहुत सारी लड़कियों को चोद चुका था और उसको सेक्स कर बहुत अच्छा अनुभव है.

मैं अपने भाई से चुदवाकर बहुत खुश थी. हम दोनों की सिस्कारियां अब चीखों में बदल गयी और हम दोनों झड़ने वाले थे. मेरा भाई जल्दी जल्दी मुझे चोदने लगा और उसके बाद कुछ देर की जबरदस्त चुदाई के बाद मैं और मेरा भाई साथ में झड़ गए. हम लोगों की सांसें तेज हो गयी थी और हम हाँफने लगे थे.

हम दोनों सेक्स करने के बाद आराम करने लगे. थोड़ी देर तक आराम करने के बाद हमने एक दूसरे को किस किया. उसके बाद मैंने अपने कपड़े पहन कर बाथरूम में जाकर अपनी चूत साफ़ की और मेरा भाई कुछ देर मुझसे बातें करने के बाद अपने घर चला गया.

भाई ने मुझे चोदते चोदते मेरे होंठों को इतनी देर तक चूसा था कि मेरे होंठ सूज गए थे और मेरी चूत में भी थोड़ी जलन हो रही थी जो अगले दिन ठीक हो गयी.

उसके बाद तो हम दोनों भाई बहन ने बहुत बार सेक्स किये. मुझे मेरे भाई ने खूब मजा दिया, मेरी वासना की पूर्ति का साधन अब मेरा भाई बन गया था.

मुझे उम्मीद है आपको मेरी कहानी पसंद आई होगी. आप सबको मेरी कहानी कैसी लगी आप सब मुझे मेल करके जरूर बतायें. मेरी अगली कहानी मैं आपके लिए बहुत जल्दी लिखूँगी.



"sex story of girl""desi chudai story""sex story group""www hindi sexi story com""sex story new""hot hindi store""mother and son sex stories""sex story kahani""www.sex stories""aex story""hot sex stories""jabardasti hindi sex story"sexystories"sex stories hot""hindi sex story image""ladki ki chudai ki kahani""hindi sexy story hindi sexy story""maa chudai story""hindi sexy khani"hindisexkahani"sexy story in hundi""sali sex""maa beta sex story""kamukta hindi story""hindi sax storis""meri biwi ki chudai""maa ki chudai bete ke sath""chodai ki kahani hindi""indian sex stories gay""all chudai story""meena sex stories""first chudai story""hot bhabi sex story""hot sex stories in hindi""jabardasti chudai ki kahani""hindi chudai ki kahani with photo""hindi chudai photo""www hindi sex katha""chachi ki chudai hindi story"phuddi"hindi sexy hot kahani""indian sex stores"bhabhisgropsex"forced sex story""www.kamukta com""gay sexy kahani""sex storry""sex story india""kammukta story""hot sex hindi story""lesbian sex story""hot sex hindi""oriya sex stories""sexy new story in hindi"chudaai"kamukta stories""hindi sexey stori""suhagrat ki chudai ki kahani""sister sex story""wife sex stories""new hindi xxx story""real sex kahani""bhabhi devar sex story""bhai behan sex""bus me sex""sexi khani""oriya sex stories""chut sex""sex kahani""sex story in hindi""sexx khani""hindi srx kahani"indiansexkahani"dost ki wife ko choda""hot kahaniya""sexy indian stories""hind sax store""mousi ko choda""meri chut ki chudai ki kahani""maa beta chudai""kajol ki nangi tasveer""chachi ki bur""सेक्सी हॉट स्टोरी""chudai story with image"