भाई की साली की ब्रा पैंटी उतार कर चुदाई की

(Bhai Ki Sali Ki Bra Panty Utar Kar Chudai ki)

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम महेश है और में राजस्थान का रहने वाला हूँ। आज में आपको जो स्टोरी बताने जा रहा हूँ, वो बिल्कुल सच्ची है, इसमें कुछ भी झूठ नहीं है सिर्फ़ नाम का फ़र्क़ हो सकता है। मेरी उम्र उस समय 21 साल थी और हमारे घर पर मेरे भाई की साली आई थी। हमारा सामूहिक परिवार है, हम घर में करीब 14 मेंबर एक साथ रहते है। में अपने भाइयों में सबसे छोटा हूँ। में उस समय फाइनल ईयर में पढ़ रहा था। मैंने कॉलेज में दोस्तो के साथ रहकर सेक्स के बारे में काफ़ी सुना था, लेकिन कभी मौका नहीं मिला था। में अक्सर रास्ते में आती जाती लड़कियों को देखता और ठंडी आहें भरता था। मेरे भाई की साली का नाम सुनीता है, वो अपनी बहन के पास घूमने आई थी, वो बहुत स्मार्ट है। हम सब घरवाले एक साथ बैठकर खूब बातें करते थे। मेरे भाई के पास बिल्कुल समय नहीं था कि वो अपनी साली को घुमा सके। Bhai Ki Sali Ki Bra Panty Utar Kar Chudai.

फिर भाई ने मुझसे कहा कि इसे आस पास के मंदिर और गार्डन घुमा लाओ। फिर में अपनी भतीजी जो कि 9 साल की थी उसे और सुनीता को लेकर घूमने निकल गया। फिर हम सारा दिन घूमते रहे। अब दोपहर को हम गार्डन में बैठे थे कि अचानक गार्डन में एक कोने में एक कपल बैठकर एक दूसरे को किस कर रहा था। फिर मेरी नजरें उधर गयी और में छुप-छुपकर वो नज़ारा देखने लगा तो तभी अचानक से मैंने देखा कि सुनीता की नजरे भी वही है। अब हम दोनों वही सीन देख रहे थे, लेकिन शो ऐसे कर रहे थे कि हमने कुछ भी नहीं देखा है। अब मेरी भतीजी खेल रही थी, तो तभी अचानक से उस लड़के ने अपना एक हाथ अपनी साथ वाली लड़की की शर्ट में डाल दिया। फिर मैंने उधर देखा और फिर मुड़कर सुनीता को देखा तो सुनीता भी वही देख रही थी। फिर उसने मुझे देखा कि में सुनीता को देख रहा हूँ, तो सुनीता सकपका गयी। मुझे हँसी आ गयी, तो वो भी हँसने लगी और फिर हम बिना कुछ कहे वहाँ से उठ गये और दूसरी तरफ चले गये।

अब में सुनीता के बहुत नजदीक चलने लगा था। अब सुनीता भी मेरे पास सटकर चलने लगी थी। अब मेरा गला सूखने लगा था। फिर उसके बाद वहाँ हमने सॉफ्टी खाई और गार्डन से चले गये। अब शाम को हम सब एक रूम में बैठकर टी.वी देख रहे थे, मैंने रज़ाई ओढ़ रखी थी। फिर सुनीता कमरे में आकर मेरे पास में बैठ गयी। अब उसे भी सर्दी लग रही थी, तो थोड़ी सी रज़ाई में उसने अपने पैर डाल दिए। अब में उसके पैरो को सहलाने लगा था तो तब उसने कुछ नहीं कहा। अब सब टी.वी देखने में मस्त थे। फिर में अपना एक हाथ उसकी जांघो तक ले गया। अब मुझे बहुत डर लग रहा था, लेकिन मज़ा भी आ रहा था। Sali Ki Bra Panty Utar Kar

फिर वो बहुत देर तक बैठी रही और में अपनी हरकते करता गया। फिर उसकी बहन उसको बुलाकर ले गयी। फिर रात को रूम में डबल बेड पर सुनीता और मेरी भतीजी सो गये और वहाँ एक छोटा पलंग और था जहाँ पर में सो गया था और मेरी आंटी बाहर वाले कमरे में सो गयी थी। अब मुझे नींद ही नहीं आ रही थी। फिर रात को करीब 1 बजे में धीरे से अपने बिस्तर पर से उठा और सुनीता के बेड के पास नीचे जमीन पर बैठ गया। फिर मैंने अपना एक हाथ उसके हाथ पर रखा तो वो सो रही थी। फिर मैंने धीरे से अपना एक हाथ उसके गालों पर रखा और सहलाने लगा। अब मुझे डर भी बहुत लग रहा था। फिर सुनीता नहीं उठी तो मैंने अपना एक हाथ बिस्तर के अंदर कर लिया। अब मुझे सर्दी भी बहुत लग रही थी, लेकिन मज़ा भी बहुत आ रहा था। फिर मैंने अपना एक हाथ धीरे से उसके बूब्स पर रखा और इंतज़ार करने लगा कि उसका क्या जवाब होता है? फिर में धीरे-धीरे से उसके बूब्स को दबाने लगा, तो उसका कोई जवाब ना देखकर मेरी हिम्मत बढ़ गयी और में उसके बूब्स को थोड़ा और ज़ोर से दबाने लगा था, उसके बूब्स की साईज 32 थी। अब मुझको बहुत मज़ा आ रहा था। Sali Ki Bra Panty Utar Kar

फिर मुझे लगा कि सुनीता जाग रही है, लेकिन नाटक सोने का कर रही है। फिर मैंने अपने हाथ से उसकी कमीज के बटन खोल दिए और उसकी ब्रा पर अपना एक हाथ रख दिया। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने उसकी ब्रा ऊपर कर दी। अब उसके बूब्स नंगे हो गये थे, तो में उन्हें दबाने लगा। फिर मैंने उनको चूसना शुरू कर दिया और सुनीता अब भी बिल्कुल चुपचाप लेटी थी। फिर में रज़ाई में घुस गया और बच्चे की तरह उसके निपल्स को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा था। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। फिर में अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसकी टाँगो पर फैरने लगा, उसने नाईट सूट पहना था और ऊपर बटन वाला और इलास्टिक वाला लोवर था। फिर मैंने अपना एक हाथ उसके लोवर में डाल दिया और उसकी पेंटी के अंदर ले गया, वहाँ बहुत गर्मी थी। अब मेरा हाथ गर्म हो गया था। फिर में उसकी चूत पर अपना एक हाथ फैरने लगा और वो तब भी सोने का नाटक करती रही। Sali Ki Bra Panty Utar Kar

फिर में उसके होंठो को चूमने लगा। अब वो भी मेरे होंठ चूम रही थी, लेकिन आँखे नहीं खोल रही थी। अब मुझे डर भी बहुत लग रहा था। फिर अचानक से कोई आवाज सुनकर में एकदम से खड़ा हो गया और जल्दी से बाहर निकल गया, ताकि अगर कोई हो तो में कहूँ कि पानी पीने निकला था। अब मेरी आंटी अपने बेड पर नहीं थी। फिर में पानी पीने किचन में गया, तो मेरी आंटी पानी पी रही थी। फिर आंटी ने कहा कि आज बहुत ज़्यादा सर्दी है। तो तब मैंने कहा कि हाँ और फिर में पानी पीकर कमरे में आया। तो तब आंटी भी आ गयी और डबल बेड पर सुनीता के पास ये कहकर सो गयी कि पास वाले रूम में ज़्यादा सर्दी है। फिर में गॉड को थैंक्स कहने लगा कि अच्छा हुआ की आंटी ने नहीं देखा वरना हंगामा हो जाता। फिर में टॉयलेट जाकर अपने हाथ से अपने लंड से पानी निकाल आया। फिर कुछ दिन तक ऐसे ही चला। अब मुझे जब भी कोई मौका मिलता तो में उसके शरीर को टच करता था। Sali Ki Bra Panty Utar Kar

यह कहानी आप decodr.ru पर पढ़ रहे है ।

अब मुझे एक रात नींद नहीं आ रही थी, तो तब रात के करीब 2 बजे सुनीता को रूम से बाहर जाते देखा तो में भी चुपचाप उसके पीछे रूम से बाहर निकल गया। अब वो टॉयलेट करने गयी थी, टॉयलेट का दरवाजा अंदर से बंद था और में बाहर ही खड़ा था। फिर कुछ देर के बाद उसने दरवाजा खोला और जैसे ही दरवाजे से बाहर निकलने लगी तो मैंने उसका रास्ता रोक लिया। फिर वो कुछ नहीं बोली और में उसे पुश करता हुआ टॉयलेट में ले गया और टॉयलेट का दरवाजा अंदर से बंद करके उसे पागलों की तरह चूमने लगा था। वो कुछ नहीं बोली और सिर्फ़ किस करने लगी थी। फिर मैंने उसके होंठो को चूमा और चाटा, गालों को चूमा और अपना एक हाथ उसके शरीर पर फैरने लगा था। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। फिर मैंने उसकी कमीज के बटन खोल दिए और उसकी कमीज उतार दी। अब उसकी ब्रा में क़ैद उसके बूब्स मुझसे कहने लगे थे कि जल्दी से हमें आज़ाद करो मेरी जान।

फिर मैंने उसकी ब्रा भी हटा दी और जल्दी से अपनी टी-शर्ट उतार दी। अब में उसके बूब्स से खेलने लगा था और उसके निपल्स को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा था। अब सुनीता मेरे बालों को सहला रही थी। अब हम कुछ भी नहीं कर रहे थे। फिर मैंने उसका लोवर नीचे कर लिया और नीचे बैठकर उसकी टाँगो और जांघो पर किस करने लगा था। अब मेरे हाथ बहुत तेज़ी से चल रहे थे, मुझे लगा कि थाली भरकर 36 भोग सामने है और इसे साफ़ करना है। फिर मैंने खड़े होकर अपनी पैंट उतार दी। अब हम दोनों सिर्फ़ चड्डी में थे। फिर मैंने उसे ऊपर से लेकर नीचे तक खूब चूमा, चाटा, अब मेरा लंड बिल्कुल तैयार था। फिर मैंने उसकी पेंटी उतार दी, यह मेरा पहला अनुभव था मैंने सेक्स के बारे में सिर्फ़ फ़िल्मो से सीखा था और यह सुनीता का भी पहला अनुभव था। Sali Ki Bra Panty Utar Kar

फिर में उसकी चूत पर अपना एक हाथ फैरने लगा और लंड कहाँ जाता है, वो जगह अपनी उंगली से तलाश कर रहा था। अब मुझे वो जगह मिल गयी थी। फिर मेरी उंगली जैसे ही सुनीता की चूत में गयी, तो वो सिसकियाँ लेने लगी। अब उसे बहुत मज़ा आ रहा था, उसकी चूत गीली हो गयी थी। अब वो मुझको ज़ोर से खुद से चिपकाने लगी थी। फिर मुझे लगा कि अब हमें देर नहीं करनी चाहिए तो में अपनी चड्डी उतारकर अपना लंड उसकी चूत में डालने की नाकामयाब कोशिश करने लगा, क्योंकि वो हाईट में मुझसे छोटी थी और में टांगो को नीचे करके भी कोशिश कर रहा था, लेकिन में नहीं कर पा रहा था। फिर मैंने टॉयलेट के फर्श पर उसे लेटा दिया। अब उसने अपनी आँखे बंद कर दी थी। फिर में उसके ऊपर आया और उसकी दोनों टांगे ऊपर करके अपना लंड उसकी चूत में डालने लगा, लेकिन मेरा लंड सही निशाने पर नहीं लग रहा था। फिर मैंने अपनी उंगली को उसकी चूत में डालकर सही जगह देखी और अपना लंड उस जगह पर सेट करके थोड़ा सा पुश किया तो मेरा लंड अभी थोड़ा सा ही अंदर गया था कि वो झटपटाने लगी और मुझसे बोली कि बाहर निकालो इसे, मुझे बहुत दर्द हो रहा है। तो में वहीं रुक गया। Sali Ki Bra Panty Utar Kar

फिर थोड़ी देर के बाद मैंने फिर से पुश किया, तो वो धीरे से चिल्लाई उईईईईईई माँ, आआअ ये तो बहुत दर्द कर रहा है। अब में उसके बूब्स को दबाने लगा था और उसके गालों को चूमने लगा था। फिर मैंने अपना लंड थोड़ा सा बाहर करके एकदम से ज़ोर लगाया। तब वो बोली कि नन्नू प्लीज इसे बाहर निकालो, मुझे बहुत दर्द हो रहा है। अब में ऐसे ही लेटे-लेटे उसे प्यार करने लगा था। अब उसकी आँखों में से आँसू आने लगे थे। फिर मैंने थोड़ा सा अपना लंड बाहर निकाला और धीरे-धीरे अंदर करने लगा था। अब वो तड़प रही थी। फिर मैंने अपने लंड को और ज़्यादा अंदर कर लिया और उसके जवाब का इन्तजार करने लगा। फिर मुझे लगा कि अब वो पहले से अच्छा महसूस कर रही है। फिर में अपनी कमर को जल्दी-जल्दी अंदर बाहर करने लगा, उसकी चूत बहुत टाईट थी। Sali Ki Bra Panty Utar Kar

अब मुझको बहुत मज़ा आ रहा था। अब उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था। अब वो मेरा पूरा साथ दे रही थी, अब वो अपनी कमर हिलाने लगी थी। फिर थोड़ी देर के बाद में खाली हो गया और उसके ऊपर से उठा तो तब मैंने देखा कि उसकी चूत में से खून निकल रहा है। फिर मैंने जल्दी से अपने कपड़े पहने और वो भी रोते हुए अपने कपड़े पहनने लगी थी। अब वो मुझसे कहती जा रही थी कि नन्नू तुमने ये ठीक नहीं किया, अब किसी को मालूम हो जाएगा तो में क्या मुँह दिखाऊँगी? फिर मैंने उसे समझाया कि चुप हो जाओ, ऐसा मुँह देखकर तो कोई भी समझ जाएगा। फिर वो 3-4 दिन तक हमारे यहाँ और रही, लेकिन उसने फिर मुझसे बात नहीं की, शायद उसका मतलब निकल गया था इसलिए। अब तो सुनीता की शादी भी हो गयी है, उसकी शादी के बाद मैंने कभी उसे नहीं देखा। मैंने पहली बार देखा कि यहाँ सब अपने अनुभव शेयर करते है, में नहीं जानता कि यहाँ कौन कितना सच लिखता है? लेकिन मेरी यह स्टोरी मेरी अपनी और बिल्कुल सच्ची है। फिर मैंने उसके बाद कभी गैर लड़की से कोई संबंध नहीं बनाया, मुझे लाईफ के यह पल शेयर करने में बहुत अच्छा लगा और मुझे तो पूरी जिंदगी यह सब याद रहेगा, ये मेरी यादों से जुड़ा है । Sali Ki Bra Panty Utar Kar



"chachi ki chudae""behan ki chudai hindi story""mast ram sex story""aunty chut""hindi sex story""hindi font sex stories""bade miya chote miya""maa ki chudai bete ke sath""www.indian sex stories.com""sex stories with pictures""sex story bhabhi"sexstories"office sex stories""didi sex kahani""mom chudai story""hindi sexy stor""sasur bahu chudai"mastram.net"very sexy story in hindi""mom son sex stories""hot store hinde""hindi xxx kahani""bahu ki chudai""sex story odia""mami ke sath sex""aunty ki chut story""hindi chudai ki kahani""indian bhabhi sex stories""bahen ki chudai ki khani""hot suhagraat""hot doctor sex""mami ki chudai"hotsexstory"bhabhi ki jawani""sexy story with pic""kamukata story""hot hindi sex story""sex with hot bhabhi""sex story of""xx hindi stori""sexstory in hindi""ma beta sex story hindi""baap beti ki sexy kahani hindi mai""office sex stories""group sex story""hindi chut kahani""brother sister sex stories""first sex story"sexstoriessexstorieswww.chodan.com"devar bhabhi ki sexy kahani hindi mai""hindi srx kahani""hot store hinde""indian sex storeis""hendi sexy story""sex story of""hindi sex tori""sexy storis in hindi""moshi ko choda""chudai stories""chudayi ki kahani""free sex stories in hindi""hind sex""latest hindi sex stories""school girl sex story""kamukata story""lesbian sex story""latest indian sex stories""hindi group sex story""sexy suhagrat""sexy story hot""sec story""indian bhabhi ki chudai kahani""behan ki chudai hindi story""indian sex hindi""sexy chudai""sex stories written in hindi""sex with mami""free hindi sexy kahaniya""behan bhai ki sexy kahani""mastram sex story""antervasna sex story""chachi ke sath sex""xxx hindi history"sexstoryinhindi"sexy story in hinfi""jabardasti sex story""hindi sex katha com""hinde sexstory""new indian sex stories""mother son sex stories""maa beta ki sex story"